अब सीएम हेल्पलाईन में आने वाली शिकायतों के निराकरण के हिसाब से विभागों एवं जिलों को ग्रेडिंग संबंधी अंक मिलेंगे

PUBLISHED : Jun 27 , 8:51 PMBookmark and Share


 
डॉ नवीन जोशी 
 
भोपाल।
राज्य सरकार ने सीएम हेल्पलाईन के माध्यम से आम जनता की शिकायतों के संतोषप्रद निराकरण हेतु विभागों एवं जिला कार्यालयों को ग्रेडिंग संबंधी अंक देने की नई व्यवस्था प्रभावशील की है।
ज्ञातव्य है कि सीएम हेल्पलाईन का संचालन लोक सेवा प्रबंधन विभाग करता है। विभाग के सचिव हरिरंजन राव ने सभी विभाग प्रमुखों, संभागायुक्तों तथा जिला कलेक्टरों को कहा है कि नागरिकों द्वारा शासन से संवाद तथा शिकायत निवारण के लिये सीएम हेल्पलाईन एक उत्तम माध्यम है। परन्तु शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निराकरण में अभी भी काफी सुधार की आवश्यक्ता है। इसलिये अब शिकायतों के निराकरण के हिसाब से तीन पैरामीटर तय किये गये हैं - एक, नागरिकों की संतुष्टि के साथ निराकृत शिकायतें जिसमें 70 प्रतिशत वैटेज दिया जायेगा। दो, स्पेशल क्लोजर शकायतें जिसमें मात्र 20 प्रतिशत वैटेज दिया जायेगा तथा तीन निम्न गुणवत्ता निराकरण के साथ बंद शिकायतें जिसमें भी सिर्फ 10 प्रतिशत वैटेज दिया जायेगा।
अब यह रहेगा गे्रडिंग तंत्र :
हरिरंजन राव ने जिलों और विभागों को बताया है कि विभिन्न स्तरों पर शिकायत निवारण के प्रदर्शन को समझने में सहायता के लिये ग्रेडिंग तंत्र तैयार किया गया है। जिस जिला एवं विभाग में सीएम हेल्पलाईन से आई शिकायतों का 60 प्रतिशत से अधिक निराकरण होगा उसे ए ग्रेड मिलेगा एवं श्रेणी एक्सीलेंट मिलेगी। 50 से 60 प्रतिशत शिकायतों के निराकरण पर बी ग्रेड के अंतर्गत श्रेणी गुड मिलेगी। 40 से 50 प्रतिशत निराकरण पर सी ग्रेड व श्रेणी एवरेज दी जायेगी जबकि 40 प्रतिशत से कम निराकरण पर डी ग्रेड व श्रेणी पूअर मिलेगी।
 
 
जज बर्खास्त

भोपाल।
राज्य शासन ने हाईकोर्ट की अनुशंसा पर सिवनी के तत्कालीन अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (वर्तमान में निलम्बन के दौरान मुख्यालय जबलपुर) प्रताप कुमार तिवारी को सेवा से बर्खास्त कर दिया है। हाईकोर्ट की फुलकोर्ट मीटिंग में उक्त न्यायाधीश के विरुध्द गंभीर कदाचरण के आरोप प्रमाणित पाये गये थे। 

डॉ नवीन जोशी

वीडियो

More News