नेहरू-इंदिरा ने नहीं जताई थी राष्ट्रविरोधियों से सहानुभूति : जेटली

PUBLISHED : Mar 06 , 8:48 PMBookmark and Share


वृंदावन। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस उपाध्यक्ष की रविवार को कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि उनके पिता राजीव गांधी, दादी इंदिरा गांधी और उनके परदादा जवाहरलाल नेहरू ने कभी राष्ट्रविरोधियों से सहानुभूति नहीं जताई, लेकिन राहुल गांधी ने ऐसी ताकतों का समर्थन करके दुर्भाग्यपूर्ण खोखले वैचारिक पतन का परिचय दिया है।
जेटली ने आरोप लगाया कि कम्युनिस्टों ने संविधान बनने से लेकर चीन के आक्रमण तक राष्ट्रविरोधी रवैया अपनाया, लेकिन कांग्रेस सहित सभी राष्ट्रवादी पार्टियां व संगठन इसके खिलाफ हमेशा खड़े हुए।
 उन्होंने कहा कि लेकिन आज एक विचित्र स्थिति बनी है कि कोई याकूब मेमन तो कोई अफजल गुरु की याद में कार्यक्रम करना चाहता है। ऐसा करने वालों में एक छोटा वर्ग जेहादियों का है और बड़ा वर्ग साम्यवादियों का है।
 वित्तमंत्री ने यहां भारतीय जनता युवा मोर्चा के द्विदिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन के समापन भाषण में कहा कि (जेएनयू में) देश तोड़ने के नारे लगे। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज तक मुख्य धारा में रही कांग्रेस के नेता (राहुल गांधी) वहां सहानुभूति प्रकट करने पहुंच गए। यह कभी गांधीजी ने नहीं किया, आम्बेडकर ने नहीं किया, जवाहरलाल नेहरू ने नहीं किया, इंदिरा गांधी ने नहीं किया, राजीव गांधी ने नहीं किया, लेकिन उन्होंने (राहुल गांधी) ऐसा किया, जो एक वैचारिक खोखलापन था।

वीडियो

More News