प्रदेश के छह सरकारी कार्यालयों में तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी पदों पर इंटरव्यू खत्म हुआ

PUBLISHED : May 26 , 6:54 AMBookmark and Share



डॉ नवीन जोशी
भोपाल।
राज्य सरकार ने छह सरकारी कार्यालयों में तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के पदों पर इंटरव्यू लेकर भर्ती करने की प्रथा खत्म कर दी है। ये छहों सरकारी कार्यालय नगरीय विकास एवं पर्यावरण विभाग के अंतर्गत आते हैं।
इस संबंध में विभाग के प्रमुख सचिव मलय श्रीवास्तव ने आयुक्त नगरीय प्रशासन एवं विकास, आयुक्त गृह निर्माण मंडल, कार्यपालक संचालक एप्को, आयुक्त नगर तथा ग्राम निवेश, सदस्य सचिव प्रदूषण नियंत्रण मंडल तथा अधीक्षण यंत्री राजधानी परियोजना प्रशासन भोपाल को निर्देश जारी कर दिये हैं।
निर्देश में कहा गया है कि सामान्य प्रशासन विभाग ने मप्र कनिष्ठ सेवा संयुक्त अर्हता परीक्षा नियम 2013 जारी किये हुये हैं जिनमें तृतीय श्रेणी के समस्त गैर कार्यपालिक पद शामिल हैं तथा इन्हें व्यापम के माध्यम से आयोजित लिखित परीक्षा से भरने का ही प्रावधान है तथा इसमें साक्षात्कार का प्रावधान नहीं है। इसलिये अब साक्षात्कार का प्रावधान नहीं रखा जाये। इसी प्रकार चतुर्थ श्रेणी के पदों की भर्ती में भी साक्षात्कार का प्रावधान खत्म किया जाये। यदि पहले से साक्षात्कार का प्रावधान रखा गया है तो उसे तत्काल स्थगित किया जाये।

प्राचीन स्मारकों के पास नहीं बिकेंगी वस्तुयें
भोपाल।
केंद्र सरकार ने 57 साल बाद अपने नियम प्राचीन संस्मारक तथा पुरातत्वीय स्थल और अवशेष नियम 1959 में संशोधन का ड्राफ्ट जारी किया है जिसमें कहा गया है कि सरकार द्वारा घोषित प्राचीन स्मारकों के के समीप बिना पुरातत्व अधिकारी की अनुमति के किसी सामान अथवा वस्तु की फेरी लगाना अथवा विक्रय अथवा ऐसी वस्तु या सामान का प्रचार अथवा किसी भी प्रकार के विज्ञापन का प्रदर्शन अथवा आर्थिक लाभ के लिये आगंतुकों को घूमाना अथवा उसका फोटो लेना प्रतिबंधित रहेगा। आगामी 12 जून के बाद यह संशोधित नियम पूरे देश में प्रभावशील हो जायेगा।
डॉ नवीन जोशी

वीडियो

More News