तीन सूर्योदय और सूर्यास्त वाले बड़े ग्रह को वैज्ञानिकों ने खोज निकाला

PUBLISHED : Jul 11 , 8:36 AMBookmark and Share




वाशिंगटन : वैज्ञानिकों ने पृथ्वी से 340 प्रकाशवर्ष दूर और बृहस्पति ग्रह के द्रव्यमान से चार गुना वजनी एक नये ग्रह की खोज की है जो तीन तारों की परिक्रमा लगाता है और मौसमों के अनुरूप हर दिन तीन बार सूर्योदय और सूर्यास्त का दीदार करता है।
तारामंडल सेंटोरस में स्थित और पृथ्वी से करीब 340 प्रकाशवर्ष दूर स्थित एचडी 131399एबी ग्रह करीब 1.6 करोड़ साल पुराना है। इस तरह यह आज तक खोजे गये सबसे नये ग्रहों में से एक है। अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ अरिजोना में सहायक प्रो. डेनियल अपाई ने कहा, ‘एचडी 131399एबी उन एक्सोप्लेनेट्स में से एक है जिसकी सीधी तस्वीर ली गयी और यह इस तरह के रोचक गतिशील विन्यास में पहला है।’
एचडी 131399एबी की खोज करने वाले अपाई के अनुसंधान समूह में पीएचडी के प्रथम वर्ष के छात्र केविन वाग्नेर ने कहा, ‘550 पृथ्वी-वर्ष तक कायम रहने वाले ग्रह की कक्षा के करीब आधे हिस्से के लिए आसमान में तीन तारे दृष्टिगोचर हैं, दो धुंधले तारे हमेशा बहुत करीब होते हैं और सबसे चमकदार तारे से पूरे साल अलग होते हुए बदलते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘ग्रह के वर्ष के अधिकतम हिस्से के लिए तारे एक दूसरे के करीब दिखाई देते हैं जिससे हर दिन अनोखे तिहरे सूर्यास्त और सूर्योदय के साथ उसे रात और दिन प्रदान करते हैं।’ अनुसंधान का प्रकाशन ‘साइंस’ पत्रिका में किया गया है।

वीडियो

More News