टाटा के फैसले से कैमरन सकते में, 40 हजार नौकरियों पर खतरा

PUBLISHED : Apr 01 , 8:16 AMBookmark and Share




लंदन। टाटा स्टील ने ब्रिटेन का पूरा बिजनेस बेचने का फैसला किया है। इसकी वजह है चीन से सस्ते स्टील का आयात। कंपनी ने कहा कि स्टील के गिरते दाम के कारण वह ब्रिटेन की यूनिट बेचने के लिए मजबूर है। बताया जा रहा है कि ब्रिटेन के स्टील सेक्टर में करीब 40 हजार नौकरियों के खत्म होने के खतरा है। इस बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने इस मामले में इमर्जेंसी मीटिंग बुलाई है। कैमरन ने टाटा स्टील को बंद होने से बचाने के लिए हरसंभव कदम उठाने का आश्वासन देश की जनता को दिया है, लेकिन उन्होंने इसका राष्ट्रीयकरण करने से साफ इनकार कर दिया है।

मोदी के सामने उठ सकता है मुद्दा

कैमरन वाशिंगटन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने यह मुद्दा उठा सकते हैं। दोनों नेता शुक्रवार को परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में शामिल होने के लिए वॉशिंगटन डीसी में उपस्थित रहेंगे।

रोज एक मिलियन पाउंड का नुकसान

ब्रिटेन में हर दिन एक मिलियन पाउंड का नुकसान टाटा स्टील को उठाना पड़ रहा है। टाटा स्टील में यहां 15 हजार कर्मचारी हैं। ब्रिटेन में मंत्री दबाव बना रहे हैं कि टाटा अपने फैसले को स्थगित करे। इनका कहना है कि जब तक कोई ढंग का ब्रिटिश खरीदार नहीं मिल जाए तब तक इस फैसले को स्थगित रखा जाना चाहिए।

वीडियो

More News