पनामा पेपर्स मामले में मेरे नाम का गलत इस्तेमाल हुआ : अमिताभ

PUBLISHED : Apr 06 , 8:47 AMBookmark and Share




नई दिल्ली। महानायक अमिताभ बच्चन ने पनामा पेपर्स मामले में अपना नाम आने के एक दिन बाद मंगलवार को टैक्स धोखाधड़ी आरोपों को पूरी तरह से गलत बताते हुए कहा है कि यह संभव है कि मेरे नाम का दुरुपयोग किया गया हो।

बच्चन ने बयान जारी कर कहा, एक अंग्रेजी अखबार में जिन कम्पिनयों सी बल्क शिपिंग लिमिटेड, लेडी शिपिंग लिमिटेड, ट्रेजरर शिपिंग लिमिटेड और ट्राम शिपिंग लिमिटेड के नाम का उल्लेख किया है। मैं इन कम्पिनयों में कभी निदेशक नहीं रहा और किसी भी कम्पनी को जानता नहीं हूं। यह संभव है कि मेरे नाम का दुरुपयोग किया गया हो।

पनामा पेपर्स के सोमवार को दुनिया भर के अमीरों के वित्तीय लेन-देन के संबंध में एक करोड़ पंद्रह लाख दस्तावेज लीक हुए हैं। इनमें कई उद्योगपतियों, फिल्म अभिनेताओं और राजनीतिज्ञों समेत 500 भारतीयों के नाम शामिल हैं। तिहत्तर

वर्षीय अभिनेता ने कहा कि मैंने विदेश में खर्च किए गए पैसों समेत अपनी पूरी आय पर कर की आदायगी की है। विदेश में मैंने जो धन भेजा वह देश के कर कानून के भुगतान के बाद भेजा और यह राशि पूरी तरह कानून के अनुरूप भेजी गई थी।

उन्होंने आगे कहा, मैंने कानून का पूरी तरह पालन किया। इंडियन एक्सप्रेस अखबार की रिपोर्ट में किसी भी मामले में मेरी ओर से अनियमितता का जिक्र नहीं किया गया है। इस मामले में अमिताभ की पुत्रवधु ऐश्वर्या राय बच्चन का नाम भी आया है। ऐश्वर्या ने भी इन रिपोर्टों को फर्जी बताते हुए पूरी तरह खारिज किया है।

उनकी मीडिया सलाहकार ने सोमवार को ही दस्तावेज पूरी तरह से झूठ का पुलिंदा करार दिया था। अखबार की रिपोर्ट में कहा गया था कि ऐश्वर्या देश से बाहर एक कंपनी की निदेशक और शेयरधारक थीं। उनके परिवार के सदस्य भी हिस्सेदार थे। इस कंपनी को 2008 में बंद कर दिया गया था।

वीडियो

More News