"ग्राम उदय" से "भारत उदय" अभियान की कार्य-योजना प्रधानमंत्री को भेजी जायेगी

PUBLISHED : Apr 02 , 10:50 AMBookmark and Share





मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 'ग्राम उदय से भारत उदय' गाँव और गरीब के उत्थान का महती अभियान है। इसके जरिये से योजना और सेवाओं का लाभ जन-जन तक पहुँचाया जायेगा। अभियान की कार्य-योजना प्रधानमंत्री को भेजी जायेगी। अभियान 14 अप्रैल से 31 मई तक चलेगा। इसका शुभारंभ प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज 'ग्रामोदय से भारत उदय' अभियान की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने अभियान की कार्य-योजना की जानकारी ली। अधिकारियों को निर्देशित किया कि अभियान के दौरान यह सुनिश्चित किया जाये कि सभी योजनाओं के प्रत्येक पात्र हितग्राही को लाभ मिले। सभी सहूलियतें और सेवाएँ जमीनी स्तर तक पहुँचे। अभियान के दौरान मिली जानकारी के आधार पर तैयार की गई कार्य-योजना आगामी वर्षों के लिये विकास का रोड मेप बनेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस महत्वाकांक्षी अभियान में जन-प्रतिनिधियों की भी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी। वे स्वयं और मंत्रीगण तथा राज्य से लेकर ग्राम स्तर के अधिकारी भी गाँवों का भ्रमण करेंगे। अभियान का शुभारंभ डॉ. अम्बेडकर की 125वीं जयंती के अवसर पर 14 अप्रैल को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी महू से करेंगे। अभियान से सभी को जोड़ने के लिये मुख्यमंत्री द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग की जायेगी। उन्होंने कहा कि इस दौरान हरियाली महोत्सव में वृक्षारोपण के लिये स्थान चिन्हित किये जायें। पानी रोकने के लिये जल-संरचनाओं के निर्माण की तैयारी की जाये। साथ ही बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि इस अभियान से गाँवों की तस्वीर बदलेगी।

बैठक में मुख्य सचिव श्री अंटोनी डि सा ने बताया कि अभियान की कार्य-योजना बना ली गई है। इसके अंतर्गत 15 अप्रैल से 15 मई के बीच प्रत्येक ग्राम पंचायत में तीन ग्राम सभाएँ लगातार तीन दिन आयोजित की जायेगी। इनमें एक दिन ग्राम विकास की योजना बनायी जायेगी। इसमें पेयजल, स्वच्छता तथा जल-संरचनाओं का निर्माण शामिल होगा। दूसरे दिन हितग्राहीमूलक योजनाओं पर कार्यवाही होगी तथा तीसरे दिन कृषि कार्य-योजना बनायी जायेगी। अभियान के दौरान किसान सभा, महिला स्वास्थ्य शिविर, खेलकूद और सांस्कृतिक प्रतियोगिता भी होगी। ग्रामीणों को जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जायेगी और उनकी वस्तु-स्थिति जानी जायेगी। किसानों की आय दो गुना करने की कार्य-योजना बनेगी और ग्रामीणों के विकास पर खुली परिचर्चा होगी।

अभियान के अमल के लिये ग्राम पंचायत स्तर पर नोडल अधिकारी, ब्लॉक स्तर पर पर्यवेक्षण अधिकारी और जोनल अधिकारी तैनात किये जायेंगे। साथ ही वरिष्ठ अधिकारी भी भ्रमण करेंगे। इन सभी का प्रशिक्षण भी किया जायेगा। बैठक में मुख्य सचिव, अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव आदि अधिकारी उपस्थित थे।

वीडियो

More News