केबिनेट मिनिस्टर्स, स्पीकर, डिप्टी स्पीकर, नेता प्रतिपक्ष और विधायकों का बढ़ा वेतन-भत्ता, 29 करोड़ व्यय होंगे 1 मई से मिलेगा बढ़ा हुआ वेतन एवं भत्ते

PUBLISHED : May 01 , 5:40 PMBookmark and Share


केबिनेट मिनिस्टर्स, स्पीकर, डिप्टी स्पीकर, नेता प्रतिपक्ष
और विधायकों का बढ़ा वेतन-भत्ता, 29 करोड़ व्यय होंगे
1 मई से मिलेगा बढ़ा हुआ वेतन एवं भत्ते
डॉ नवीन जोशी 
भोपाल।
मुख्यमंत्री, मंत्री, राज्य मंत्री, स्पीकर, डिप्टी स्पीकर, नेता प्रतिपक्ष एवं विधायकों के वेतन एवं भत्ते में बढ़त्तौरी संबंधी विधयेकों पर राज्यपाल ने हस्ताक्षर कर दिये हैं तथा अब इन्हें 1 अप्रैल,2016 से जिसका भुगतान 1 मई,2016 को होगा, बढ़ा हुआ वेतन एवं भत्ता मिलेगा जिस पर हर साल कुल 29 करोड़ 1 लाख 24 हजार रुपये का आवर्ती वित्तीय भार आयेगा।
यही नहीं पूर्व विधायकों को भी 1 मई से बढ़ी हुई पेंशन एवं भत्ते मिलेंगे जिसमें 20 हजार रुपये मासिक(पहले 15 हजार रुपये प्रति माह थी), 10 हजार रुपये प्रति माह चिकित्सा भत्ता (पहले 5 हजार रुपये प्रति माह था) मिलेगा। यही नहीं अब पूर्व विधायकों की पेंशन में अगले साल से हर वर्ष 800 रुपये प्रति माह राशि स्वमेव बढ़ती जायेगी। पूर्व विधायकों की मृत्यु पर अब परिवार पेंशन 10 हजार रुपये के स्थान पर 18 हजार रुपये प्रति माह मिलेगी तथा इसमें अगले वर्ष से पांच सौ रुपये प्रति माह की स्वमेव बढ़ौत्तरी हो जायेगी। यही नहीं पूर्व विधायकों की मृत्यु पर अब उसके आश्रित परिवार को पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि एकमुश्त दी जायेगी तथा यह प्रावधान पहली बार किया गया है। वर्तमान विधायकों एवं पूर्व विधायकों के वेतन एवं भत्तों में की गई इस बढ़ौत्तरी से राज्य के खजाने पर हर साल 25 करोड़ 80 लाख 60 हजार रुपये का वित्तीय भार आयेगा।
इसी प्रकार अब सीएम, मंत्री और राज्य मंत्रियों के बढ़ाये वेतन एवं भत्ते से राज्य के खजाने पर 3 करोड़ रुपये प्रति वर्ष का वित्तीय भार आयेगा जबकि स्पीकर, डिप्टी स्पीकर एवं नेता प्रतिपक्ष के बढ़े हुये वेतन एवं भत्ते से राज्य के खजाने पर 20 लाख 64 हजार रुपये सालाना का भार आयेगा।
1 मई से यह मिलेगा मासिक वेतन व भत्ता :
- सीएम 2 लाख रुपये (पूर्व में 1 लाख 8 हजार 200 रुपये)
- मंत्री 1 लाख 70 हजार रुपये (पूर्व में 85 हजार 200 रुपये)
- राज्य मंत्री 1 लाख 49 हजार रुपये (पूर्व में 78200 रुपये)
- स्पीकर 1 लाख 55 हजार रुपये (पूर्व में 85 200 रुपये)
- डिप्टी स्पीकर 1 लाख 26 हजार 500 रुपये (पूर्व में 78200 रुपये)
- नेता प्रतिपक्ष 1 लाख 36 हजार 500 रुपये (पूर्व में 85200 रुपये)
- विधायक 80 हजार रुपये (पूर्व में 45000 रुपये)
 
 
कार्यपालन यंत्री को भवन क्रय की अनुमति रोकी
भोपाल।
जल संसाधन विभाग के पेंच व्यपवर्तन बांध संभाग सिंगना चौरई जिला छिन्दवाड़ा के कार्यपालन यंत्री अजय कुमार गुप्ता को राज्य शासन ने भवन क्रय करने की अनुमति नहीं दी है। शासन ने उनसे जानकारी चाही है कि स्टेट बैंक आफ इण्डिया से 25 लाख रुपये ऋण की सशर्त स्वीकृति की छायाप्रति एवं दस लाख रुपये की बचत बताने संबंधी बैंक पासबुक की छाया प्रति तथा वर्ष 2015 की उनकी अचल सम्पत्ति विवरण की छायाप्रति दें। इसके बाद ही उन्हें भवन क्रय करने की अनुमति देने की कार्यवाही की जायेगी।

डॉ नवीन जोशी

वीडियो

More News