जर्मनीः म्यूनिख गोलीबारी में 9 लोगों की मौत, हमलावर ने खुद को गोली से उड़ाया

PUBLISHED : Jul 23 , 9:02 AMBookmark and Share




जर्मनी के तीसरे सबसे बड़े और दक्षिणी शहर म्यूनिख के एक शॉपिंग मॉल में शुक्रवार शाम हुई गोलीबारी में एक हमलावर समेत कम से कम 10 लोग मारे गये और कम से कम 10 अन्य घायल हो गये।

म्यूनिख पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि घटनास्थल के पास से एक व्यक्ति का शव बरामद हुआ है और उसके हमले में शामिल एकमात्र शूटर होने की संभावना है। घटनास्थल से एक किलोमीटर की दूरी पर हमलावर का शव बरामद किया गया। उसने घटना को अंजाम देने के बाद खुद को गोली मार ली थी।

इससे पहले हमलावर की गोलीबारी में नौ लोग मारे गये और कम से कम दस अन्य घायल हो गये।

इससे पूर्व पुलिस ने प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से इस हमले में तीन लोगों के शामिल होने की संभावना व्यक्त की थी। हालांकि प्रवक्ता ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा कि अब लगता है कि इस हमले के लिए केवल एक व्यक्ति जिम्मेदार था।

इस घटना के कारण म्यूनिख में आपातकाल लागू कर दिया गया था और शहर में विशेष सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया था।

हमलावर एक जर्मन-ईरानी था
घातक गोलीबारी का संभावित एकमात्र हमलावर बंदूकधारी 18 वर्षीय एक जर्मन-ईरानी था, जिसके पास दोनों देशों की नागरिकता थी।

म्यूनिख के पुलिस प्रमुख हबरटस आंड्रिया ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि गोलीबारी का उद्देश्य स्पष्ट नहीं है। पूर्व की रिपोर्ट के बावजूद घटना में किसी अन्य बंदूकधारी के शामिल होने का भी कोई संकेत नहीं है।

जांच में ली रोबोट की मदद
हमले की जांच में मदद के लिए पुलिस एक रोबोट का सहारा ले रही है। जर्मन रेडियो स्टेशन बायेरिश्चर रंडफंक के मुताबिक घटनास्थल के पास एक मृत व्यक्ति का शव पाया गया, जिसके पास लाल रंग का एक बैग भी था। ऐसा ही एक बैग एक हमलावर के पास भी देखा गया था जहां गोलीबारी की घटना शुरू हुई थी। रेडियो प्रसारणकर्ता के मुताबिक पुलिस बैग की जांच के लिए एक रोबोट की मदद ले रही है।

ओबामा ने जर्मनी का किया समर्थन
अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने म्यूनिख गोलीबारी के लिए जर्मनी के समर्थन का वादा किया। ओबामा ने व्हाईट हाउस में एक बैटक के दौरान कहा, 'हमें अभी तक पता नहीं है कि वास्तव में वहां क्या हो रहा है, लेकिन स्पष्ट रूप से हमारे दिल घटना के पीडि़तों के साथ हैं।' उन्होंने कहा,' हम उनकी जरूरतों का पूर्ण समर्थन करने की प्रतिज्ञा करते हैं।'

आतंकवाद का बढ़ना सभी सभ्य लोगों के लिए खतरा: ट्रम्प
अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए रिपब्लिकन पार्टी के प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रम्प ने जर्मनी के म्यूनिख में हुई घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि अमेरिका को आतंकवाद खत्म करने के लिए पूरी ताकत लगा देनी चाहिए।

ट्रम्प ने फेसबुक पर कहा, 'यह जारी नहीं रह सकता। आतंकवाद के बढ़ने से सभी सभ्य लोगों के जीवन पर खतरा है और इसे हमसे दूर रखने के लिए हमें अपनी ताकत से हरसंभव कदम उठाना चाहिए।'

वीडियो

More News