अमिताभ पर कसा आयकर विभाग ने शिकंजा

PUBLISHED : Apr 26 , 8:03 AMBookmark and Share




 नई दिल्ली। आयकर विभाग ने पनामा पेपर्स मामले में अमिताभ बच्चन पर शिकंजा कसते हुए उन्हें सवालों की नई फेहरिस्त भेजी है। बच्चन ने विदेश में वह कंपनियां खोलने के आरोप से इंकार किया है जिनका उल्लेख ‘पनामा पेपर्स’ में था।
सूत्रों ने कहा कि उन वित्तीय लेनदेन के ब्यौरे की मांग करते हुए बच्चन को प्रश्नावली भेजी गई है जिनका जिक्र खोजी पत्रकारों की संस्था आईसीआईजे की ओर से दी गई खबरों में किया गया था। प्रश्नावली विभाग के पास पड़ी कुछ पुरानी सूचना के आधार पर भी भेजी गई है।
 
उन्होंने कहा कि बच्चन ने हाल ही में आयकर विभाग को भेजे जवाब में उन चार कंपनियों से किसी तरह का संबंध होने अथवा उनमें हिस्सेदारी होने से इंकार किया था जिनके बारे में पनामा की विधि सेवा प्रदाता कंपनी मोसैक फोंसेका के लीक दस्तावेजों में दावा किया गया था।
 
सूत्रों ने कहा कि अभिनेता से कहा गया है कि एक सप्ताह के भीतर नई प्रश्नावली का जवाब दें। पहले बच्चन ने सार्वजनिक बयान जारी कर कहा था कि शायद उनके नाम का दुरूपयोग किया गया है।
 
बच्चन ने कहा था, 'इंडियन एक्सप्रेस ने जिन चार कंपनियों- सी बल्क शिपिंग कंपनी लिमिटेड, लेडी शिपिंग लिमिटेड, ट्रेजर शिपिंग लिमिटेड और ट्रैम्प शिपिंग लिमिटेड- का उल्लेख किया है इनमें से मैं किसी के बारे में नहीं जानता। मैं कभी भी इनमें से किसी कंपनी का निदेशक नहीं रहा। यह संभव है कि मेरे नाम का दुरुपयोग हुआ हो।'

वीडियो

More News